"A bi-lingual platform to express free ideas, thoughts and opinions generated from an alert and thoughtful mind."

Monday, October 24, 2011

बड़ी बात है


सब बदल रहा है
अब नहीं लगता
मरना बड़ी बात है

बड़ी बात तो
जीवत रह कर
मौत तुल्य भयावह परिस्तिथियों में
मौन खड़े रहना है

ख़ुशी की आकांक्षा में मृत जीवन को
घसीटना क्या कम बात है?

Related Posts :



3 comments:

Kailash C Sharma said...

ख़ुशी की आकांक्षा में मृत जीवन को
घसीटना क्या कम बात है?

बहुत मर्मस्पर्शी प्रस्तुति...दीपावली की हार्दिक शुभकामनाएं!

Ruchi Jain said...

nice way of writing..

abhi said...

जिंदा रहना सबसे बड़ी बात है!!

Post a Comment